जीडीपी फुल फॉर्म | GDP Ka Full Form

आजकल सब के लिए जीडीपी एक साधारण शब्द हो गया है, जिस वजह से हर कोई जीडीपी फुल फॉर्म क्या है यह जानना चाहते हैं। शायद आप भी जीडीपी का मतलब जानने हेतु ही गूगल पर जीडीपी का फुल फॉर्म सर्च करते हुए हमारी इस लेख में आए हैं।

इसलिए आज हम इस लेख में जीडीपी(GDP) का फुल फॉर्म क्या है, इसके बारे में विस्तारित आलोचना करेंगे एवं आपको यह भी बताएंगे कि आजकल यह जीडीपी हमारे देश में इतना महत्वपूर्ण क्यों है। लेकिन इससे पहले हम आपको एक चीज अनुरोध करना चाहते हैं कि अगर आपको हमारी इस जीटीवी(GDP) वाला लेख पढ़ने के बाद अच्छा लगा तो आप अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

जीडीपी फुल फॉर्म | GDP Ka Full Form

दोस्तों साधारणतः जीडीपी का मतलब होता है ग्रॉस डॉमेस्टिक प्रोडक्ट एवं अंग्रेजी में इसको कहते हैं Gross Domestic Product
जीडीपी फुल फॉर्म | GDP Ka Full Form
जीडीपी फुल फॉर्म | GDP Ka Full Form

जैसे कि आप ऊपर टेबल में देख ही रहे हैं, आप जो जीडीपी के बारे में जानना चाहते हैं उसका असल फुल फॉर्म है ग्रॉस डॉमस्टिक प्रोडक्ट। लेकिन हम जानते हैं आपने से बहुत सारे लोग इस शब्द को पढ़ने के पश्चात भी जीडीपी का असल मतलब क्या होता है इसको समझ में नहीं आया होगा।

इस चीज को ध्यान में रखते हुए अभी हम लोग पहले जीडीपी के बारे में विस्तारित आलोचना करेंगे एवं उसके साथ कुछ उदाहरण भी आपके सामने लेकर आएंगे। एवं ऐसा करने से बात ही आपको जीडीपी का मतलब क्या है एवं यह जीडीपी आजकल हमारे देश में इतना प्रचलित क्यों है इसके बारे में पता चल जाएगा।

और परे: BSEB का फुल फॉर्म, ITI फुल फॉर्म हिंदी में क्या है

जीडीपी क्या है

दोस्तों जीडीपी क्या है यह जानने से पहले आपको हिंदी में जीडीपी को क्या कहते हैं यह भी जानना बहुत जरूरी है। असल में जीडीपी का मतलब होता है सकल घरेलू उत्पाद। सीधी भाषा में बोला जाए तो जीडीपी का मतलब होता है कोई भी देश के राजनीतिक सीमा के अंदर 1 साल में कुछ भी तैयार किया गया सामान एवं सेवाएं। यानी कि अगर आप इसी शब्द को अंग्रेजी में बोले तो हर 1 साल में गुड्स एवं सर्विसेस का मूड मूल्य।

असल में किसी भी देश के अंदर यह जीडीपी शांत तब भी प्रचलित होता है जव उस देश का जीडीपी बहुत ज्यादा बढ़ जाता है या फिर बहुत ही घट जाता है।

उदाहरण के तौर पर: हम लोग हर साल कोई भी सेवा एवं सर्विसेस लेने या फिर देने के लिए जो भी पैसा लोगों को देते हैं या फिर लोगों से लेते हैं यह सारे जींस का कुल किस आपको ही 1 साल का GDP बोला जाता है। जैसे कि आप जानते हैं जीडीपी फुल फॉर्म ग्रॉस डॉमेस्टिक प्रोडक्ट (Gross Domestic Product) है। लेकिन क्या आप कभी यह सोचे हैं कि हमारे देश में जीडीपी का क्या महत्व है।

असल में जीडीपी हर 1 साल हमारे देश की आर्थिक सेहत को बताते हैं। जैसे कि अगर कोई भी कंपनी हमारे देश में कुछ भी प्रोडक्ट को बनाते हैं तो वह लोगों को जरूर बेचेगा एवं उसके साथ ही इस प्रोडक्ट के हर एक चाहिता लोग भी पैसा देकर इस चीज को खरीदने वाला है। ऐसे अवस्था में यह सारे पैसा ही जीडीपी के अंदर आएगा।

दूसरी और अगर कोई भी कंपनी कुछ भी प्रोडक्ट बनाता है एवं वह चीज मार्केट में नहीं बिकता है तो उस कंपनी को बहुत ही बड़ा लौट आने वाला है एवं इस अवस्था में हमारे भारत की जीडीपी में भी बहुत ही बड़ा प्रभाव पड़ने वाला है। क्योंकि जीटीपी तभी भरता है जब मार्केट में कोई भी प्रोडक्ट या फिर सर्विस 1 फ्लोर में चलता रहता है।

और पढ़ें: एसएसटी का मतलब एवं एनओसी का अर्थ हिंदी में क्या है।

जीटीपी(GDP) कुछ महत्वपूर्ण चीज

जैसे कि हम जानते हैं जीडीपी का फुल फॉर्म है ग्रॉस डॉमेस्टिक प्रोडक्ट यानी कि हिंदी में हुआ “सकल घरेलू उत्पाद”। यानी कि इसका अर्थ यह होता है कि अगर कोई भी चीज हमारे इंडिया में ही बनता है तो वह हमारे जीडीपी के अंदर आएगा, लेकिन दूसरी और अगर कोई भी इंडियन कंपनी कोई दूसरी देश यानि के अमेरिका, बांग्लादेश, पाकिस्तान जैसे देश में जाकर कुछ भी चीज को बनाता है तो वह हमारे भारत की जीडीपी के अंदर नहीं आने वाला है।

ठीक दूसरी और अगर कोई भी दूसरे देश का कंपनी अगर हमारे देश में आकर, उन लोगों का प्रोडक्ट बनाता है, तो उन लोगों का प्रोडक्ट हमारे जीडीपी के अंदर हां जाएगा। जीडीपी का मतलब समझने के साथ-साथ आप यह भी जानी है कि जीडीपी को हमेशा प्रतिशत में ही प्रकाश किया जाता है। उदाहरण के तौर पर हम लोग इस जीडीपी को ऐसा बोलते हैं कि इस साल भारत का जीडीपी 5% या फिर 6% बढ़ा है।

सरकार की साधारण गणन के अनुजाई इस जीडीपी(GDP) को हर साल चार बार गण किया जाता है, यानी कि हर 3 महीने में एक बार हमारे देश की जो जीडीपी है उसको गणना की जाती है।

FAQs

जीडीपी का फुल फॉर्म हिंदी में क्या है?

जीडीपी का फुल फॉर्म हिंदी में है सकल घरेलू उत्पाद।

GDP का पूरा नाम क्या?

GDP कहां हो पूरा नाम है ग्रॉस डॉमेसक प्रोडक्ट, जिसको हिंदी में सकल घरेलू उत्पाद को समझाते हैं समझाते हैं समझाते हैं।

जीडीपी कितने प्रकार के होते हैं?

जीडीपी साधारण था दो प्रकार होते हैं।

जीडीपी का सूत्र क्या है?

जीडीपी का मूल सूत्र है, GDP(जीडीपी) = C + I + G + (X − M)।

जीडीपी कौन जारी करता है?

हमारे इंडिया में जीडीपी को जो जारी करता है वह है “केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय”।

निष्कर्ष

दोस्तों आज हम इस लेख में जीडीपी फुल फॉर्म क्या है एवं इसके साथ-साथ यह जीडीपी क्या चीज है इसके बारे में बहुत कुछ विस्तारित आलोचना किए हैं। आशा करता हूं अगर आप हमारी इस लेख को अंत तक अच्छी तरीके से पढ़े होंगे तब आपको जीडीपी का फुल फॉर्म समेत इसका महत्व हमारे देश में क्या है यह भी जान चुके हैं। इसके अलावा अगर आपके मन में जीडीपी को लेकर कुछ भी तत्व जाना है तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में जरूर अपना प्रश्न पूछे।

by Suman Sahu
सुमन साहू जिसका उम्र 30 साल है, एक अनुभवी ब्लॉगर के साथ-साथ एक अनुभव भी उद्योग भी है। सुमन जी अपना ग्रेजुएशन न.आइ.टि अगरतला से एक इंजीनियर के डिग्री लेकर किया है। उसके बाद उन्होंने अपने जीवन को पूरी तरीके से एक ब्लॉगर के तौर पर मानते हुए यह GovtsYojana.in वेबसाइट में काम करने के साथ-साथ और भी तीन वेबसाइट में काम करता है। इसके साथ-साथ सुमन साहू जी एक फ्रीलांसर भी है जो फाइबर एवं आप क जैसे प्लेटफार्म में काम भी करता है। सुमन जी हमेशा से ही एक अच्छे दिल के इंसान है जो हर वक्त दूसरे के समस्याओं को अपना समस्या मांगते हुए समाधान करने का प्रयास करते हैं। इस चीज को लेकर ही वह यह गवर्नमेंट योजना वाले वेबसाइट में हर तरीके का लेख लेकर लोगों को उसके समस्या के समाधान को लेकर आलोचना करते हैं।

Leave a Comment